अनुसंधान और अभिवनता विकास योजनाएं

You are here

उन याजनाओं के बारे में जाने जो भारत में तकनीकी शिक्षा में अनुसंधान को प्रोत्साहित करती है

अनुसंधान संवर्धन योजना (आरपीएस)

यह योजना तकनीकी शिक्षा में पहचाने गए महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अनुसंधान को प्रोत्साहित करती है। आरपीएस का उद्देश्य इंजीनियरी विज्ञान में अनुसंधान को प्रोत्साहित करके तथा स्थापित और नई प्रौद्योगिकीयों में अभिनवता को बढ़ावा देकर संस्थानों में अनुसंधान के परिवेश का सृजन करना तथा संकाय और अनुसंधान की गुणवत्ता का संवर्धन करते हुए निष्णात और डॉक्टोरल डिग्री छात्रों को तैयार करना हैं। वित्त-पोषण की सीमा 3 वर्ष की परियोजना अवधि के लिए 25 लाख रूपए है।

उद्यमवृत्ति विकास प्रकोष्ठ (ईडीसी)

यह योजना छात्रों को एक आकर्षक और व्यवहार्य कैरियर विकल्प के रूप में उद्यमवृत्ति और स्व-रोजगार को चुनने के लिए प्रेरित करती है। वित्त-पोषण की सीमा 10 लाख रू है।

ई-शोध सिंधु

इस योजना का उद्देश्य तकनीकी शिक्षा में ई-संसाधनों को 94 अभातशिप-समर्थित तकनीकी संस्थानों में प्रदान करना है। अभातशिप द्वारा 2017 में संदत्त सब्सक्रिप्शन की दर 6.5 करोड़ रू हैं।

संगठित कन्फर्मेंस के लिए अनुदान

यह योजना तकनीकी शिक्षा के विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सम्मेलन के आयोजन के लिए संस्थानों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

Back to Top